दांत में दर्द के घरेलू उपाय हिंदी | Home remedies for toothache in hindi

शेयर अवश्य करें

आजकल बच्चों से लेकर बूढों तक हर कोई दांत में दर्द की समस्या से परेशान है. इस लेख में हम आपको दांत में दर्द के कारण और दांत में दर्द के घरेलू उपाय हिंदी में और दाढ़ में दर्द का घरेलू उपाय हिंदी में बताएँगे

दाढ़ और दांत में दर्द क्यों होता है?

दाढ़ और दांत में दर्द का प्रमुख कारण है दांतों की देखभाल न होना. दांतों की समस्या की शुरुआत बचपन में ही हो जाती है. बच्चे मीठी वस्तुएं बहुत खाते हैं. लेकिन ठीक से दांत साफ़ नहीं करते. मीठी वस्तुएं खाने के 20 मिनट बाद ही दांतों में एसिड बनने लगता है, जो दाढ़ों और दांतों की ऊपरी परत को नष्ट कर देता है. इससे धीरे-धीरे दांत कमजोर हो जाते हैं. इससे दांत में दर्द शुरू हो जाता है. कभी कभी 50 साल की उम्र आते-आते दाढ़-दांत गिरने भी लगते हैं.

दांत में दर्द के घरेलू उपाय हिंदी
Photo by Sora Shimazaki on Pexels.com

दाढ़-दांतों की देखभाल के घरेलू उपाय

हँसते हुए जब किसी के दांत दीखते हैं, तो व्यक्ति की सुन्दरता पर चार चाँद लग जाते हैं. लेकिन अधिकतर लोग खुलकर हंस भी नहीं सकते, क्योंकि उनके दांत समय से पहले ही ख़राब हो जाते हैं. दांत समय से पहले ख़राब न हों, इसके लिए दांतों की सही देखभाल आवश्यक है. दांतों की सुन्दरता एवं सुरक्षा के लिए हजारों प्रकार के टूथ पेस्ट एवं मंजन बाज़ार में उपलब्ध हैं. लेकिन फिर भी दांतों की समस्या बनी रहती है. इसके कारण टूथ पेस्ट और मंजन के अलावा भी अन्य घरेलू उपाय भी अपनाने चाहियें, जिससे 100 सालों तक दांत का स्वस्थ बने रहें और दांत में दर्द और दांत गिरने की समस्या न होने पाए.

दांत में दर्द के घरेलू उपाय हिंदी
Photo by Anna Shvets on Pexels.com
  • सप्ताह में एक-दो बार तेजपात के चूर्ण से दांतों की हलकी मसाज करें.
  • सुबह दांत साफ़ करने के बाद काले तिल चबाएं.
  • तुलसी के सूखे पत्तों के चूर्ण से दांतों की हलकी मसाज करें.
  • जिनके दांत हिलने लगें हों, उन्हें आम के पत्तों को चबाना चाहिए. बाद में उनको थूक देना चाहिए.
  • टमाटर और गाजर का रस नियमित पीने से दांत मजबूत रहते हैं.
  • हल्दी में थोड़ी भुनी हुई फिटकरी का चूर्ण बनाकर दांतों पर मसाज करें.
  • बारीक नमक में सरसों का तेल मिलाकर दांतों की मसाज करें.
  • कुछ भी खाने या पीने के बाद दांत ज़रूर साफ़ करें. आवश्यक नहीं कि मंजन या पेस्ट ही करें. खाने के बाद हर बार सिर्फ अच्छी तरह कुल्ला करने से भी दांतों से खाने के कण या मीठे के कण निकल जाते हैं.
  • बाज़ार में उपलब्ध किसी भी पेस्ट या मंजन से अधिक प्रभावशाली दातून होती है. यदि संभव हो तो टूथ पेस्ट या मंजन छोड़कर नीम या बबूल की दातून से अपने दांत साफ़ करें.
  • दांतों में समस्या की शुरुआत बचपन में ही हो जाती है. बच्चों को नियमित दांत साफ़ करने की आदत डालें.

यह भी देखें : सिर्फ दूध के प्रयोग से ठीक होने वाले रोग

दांत में दर्द के घरेलू उपाय | दाढ़ में दर्द का घरेलू उपाय

दांत में दर्द होने पर सब लोग दर्द की दवाई लेते हैं या डॉक्टर के पास जाते हैं. डॉक्टर भी दर्द की दवाई ही देते हैं. लेकिन वह दवाई शरीर पर बुरा असर (side effect) करती है. इसलिए दांत में दर्द के लिए घरेलू उपाय ही अपनाये जाने चाहियें. इन घरेलू उपायों से दांत दर्द ठीक होता है और भविष्य के लिए भी दांत ठीक रहते हैं. इनका कोई बुरा असर (side effect) भी नहीं होता.

  • पानी पीने से दांत में दर्द होता है तो दालचीनी के तेल की मसाज करें.
  • नौसादर के चूर्ण की दांतों पर मसाज करें. यह दांत में दर्द और सूजन की दवा है.
  • यदि दांत में कीड़े के कारण दाढ़-दांत में दर्द है है तो ज़रा सी रुई को लौंग तेल में भिगोकर दाढ़ में रख लें.
  • दाढ़ में सामान्य दर्द है तो थोड़ी सी रुई को हल्दी के पेस्ट में डुबो लें. फिर उसे 1-2 घंटे के लिए दाढ़ में दबा लें. इससे तुरंत दांत में दर्द का इलाज हो जाता है.
  • अमरुद के पत्तों के काढ़े से कुल्ला करते ही दांत का दर्द ठीक हो जाता है.
  • जिस दाढ़ में दर्द है, उस दाढ़ में अदरक का एक टुकड़ा रखकर चूसने सा दांत में दर्द में राहत मिलती है.

छोटे बच्चों के दांत में दर्द हो तो क्या करना चाहिए

छोटे बच्चों के दांतों में दर्द की समस्या अक्सर होती रहती है. बच्चों के दांत में दर्द के कुछ उपाय नीचे दिये गए हैं –

दांत में दर्द के घरेलू उपाय हिंदी
Photo by Ketut Subiyanto on Pexels.com
  • 10 ग्राम वायविडंग और 10 ग्राम फिटकरी को दरदरा कूट लें. इसके बाद उसको 3 लीटर पानी में डालकर उबाल लें. जब पानी उबलते-उबलते 1 तिहाई यानी 1 लीटर रह जाये, तो उसको शीशे की बोतल में भरकर रख लें. बच्चों के दांत में दर्द होने पर उस पानी का कुल्ला कराएँ. थोड़ी देर में दर्द ठीक हो जायेगा. यदि रात को सोते समय नियमित रूप से इस पानी से कुल्ला किया जाय, तो 100 साल तक दांत मजबूत रहते हैं.
वायविडंग
वायविडंग
  • लगभग 100 ग्राम अमरुद के पत्तों को कुचलकर पेस्ट बना लें. उनको आधा लीटर पानी में डालकर उबाल लें. जब पानी 1 गिलास रह जाये, तो उस काढ़े से बच्चे को कुल्ला करवा दें. यदि दांत में कीड़े के कारण दर्द है तो भी ठीक हो जायेगा.

दांत में कीड़ों के घरेलू उपाय

दांत में दर्द की अधिकतर समस्या दांत में कीड़े के कारण होती है. दांत में कीड़े लगने पर दांत में छिद्र होना शुरू हो जाता है, जिससे दांत में दर्द रहना शुरू हो जाता है. यह दर्द तब तक नहीं जाता, जब तक कि दांत में से कीड़ा नहीं निकल जाता. दांत से कीड़े निकालने के लिए यह घरेलू उपाय अपनाएं.

वायविडंग के बीजों को कूटकर एक चने के बराबर मलमल या सूती कपड़े की पोटली बना लें. उस पोटली को 50 ग्राम पानी में उबालें. जब पोटली सारा पानी पी जाये, तो उस पोटली को गरम-गर्म ही कीड़े लगी हुई दाढ़ में दबा लें. 2-3 घंटे बाद जब पोटली को निकालेंगे तो उस पर कीड़े लिपटे हुए मिलेंगे. यह प्रक्रिया तब तक दोहराएँ, जब तक कि दाढ़ से सारे कीड़े न निकल जाएँ.

वायविडंग की पोटली
वायविडंग

पानी पीने से दांत में दर्द होता है, तो क्या करें?

पानी पीने से दांत में दर्द होता है तो कुछ भी खाने या मीठा पेय पीने के बाद कुल्ला अवश्य करें. अगर दिन में 10 बार खाते हैं तो 10 बार कुल्सला करें. समस्या ठीक हो जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Healthnia