भरवां लौकी रेसिपी

शेयर अवश्य करें

भरवां लौकी रेसिपी – शायद ही कोई होगा जिसने बचपन में लौकी चाव से खायी हो. अधिकतर लोग बड़े होने पर भी लौकी को पसंद नहीं करते. लेकिन लौकी काफी गुणकारी है. बचपन में  बाबा रामदेव काफी समय से लौकी के फायदे बताते आ रहे हैं. वे बताते हैं कि ह्रदय रोगों के लिए लौकी रामबाण है. लेकिन फिर भी लोग लौकी की सब्जी को अधिक पसंद नहीं करते. लेकिन आज हम आपको लौकी की ऐसी रेसिपी बताने जा रहे हैं, जो खाने में बेहद स्वादिष्ट होने के साथ बेहद पौष्टिक भी है. इस रेसिपी का नाम है भरवां लौकी. आपने भरवां बैंगन, और भरवां करेला की सब्जी तो खूब बनाई होगी. आज आप जानेंगे भरवां लौकी रेसिपी.

भरवां लौकी रेसिपी

सामग्री (तीन व्यक्तियों के लिए)
लौकी – सुकोमल छोटी लौकी लगभग 200 ग्राम
भरने के लिए पोहा या चावल – लगभग 100ग्राम
तेल – सरसों/तिल/जैतून/मूंगफली का 3 चम्मच

काजू – 8-10 काजुओं के टुकड़े
अखरोट –  2 अखरोट के टुकड़े
किशमिश – 20 ग्राम

तडके और ग्रेवी के लिए 

टमाटर – 300 ग्राम
अदरक – एक बड़ा टुकड़ा
लहसुन – 8-10 कलियाँ
प्याज  – एक बडा प्याज
हरी मिर्च – 2-3  हरी मिर्च स्वादानुसार
नमक – स्वाद के अनुसार

मसाले –

दालचीनी पाउडर – चुटकी भर
जायफल का पाउडर – चुटकी भर
राई – आधा चम्मच
जीरा – आधा चम्मच
धनिया पाउडर – एक चम्मच
हल्दी – आधा चमच

भरवां लौकी रेसिपी की तैयारी

  • सबसे पहले यदि चावल उपयोग कर रहे हैं, तो चावल धो कर कुछ देर भिगो दें। यदि पोहा मोटा है तो इसे कुछ देर भिगो कर रखें, अन्यथा पोहा धो कर पानी निथार लें।
  • लौकी यदि कोमल है तो छिलका रहने दें अन्यथा छिलका उतार दें। इसके तीन अथवा चार टुकड़े करें।

  • प्रत्येक टुकड़े से एक ओर से गूदे तथा बीज वाला भाग निकाल कर कप जैसी आकृति बना लें।
  • अब भिगोये गए चावल या  पानी में से निथारे पोहा में थोड़ा नामक और थोड़ी सी लाल मिर्च, एक चम्मच तेल और मेवे मिला कर इसे अच्छी तरह से मिला लें.
  • इस मिश्रण को  लौकी में दबाकर भर दें।
  • पेठा बनाते समय जैसे कद्दू में छेद करते हैं, वैसे ही  लौकी की सतह पर सुई से कुछ कुछ दूरी पर छेद कर दें। इससे स्वाद बढेगा।

भरवां लौकी बनाने की विधि

  • लहसुन, प्याज, हरी मिर्च और अदरक को धोकर पेस्ट एक साथ बना लें। टमाटर का भी अलग से पेस्ट बनालें
  • लोहे की कडाही चूल्हे पर रखकर गर्म करें. गर्म होने पर इसमें 1 चम्मच तेल डालें.
  • तेल अच्छी तरह गर्म होने पर इसमें राई और जीरा डाल दें.
  • जब जीरा सुनहरा हो जाये तो तेल में हरी मिर्च, प्याज, अदरक और लहसुन का पेस्ट डालकर धीमी आँच पर जब तक मसाले का तेल न छूटने लगे पकाएँ।
  • अब इसमें हल्दी, धनिया पाउडर, नमक मिलाकर दो मिनट और पकाएँ और मसाले को चम्मच से हिलाते रहें।
  • इसके बाद टमाटर का पेस्ट छौंक में डालें अच्छी तरह मिला दें.
  • आधा कप पानी डालकर अच्छी तरह उबल दें.
  • मिश्रण को अच्छी तरह पकाकर जब पानी जल जाये तो उसमें पोहा या चावल भरी लौकी को रख दें. बर्तन को ढँक दें.
  • ढंकने के बाद मन्द आँच पर लगभग 15-20 मिनट तक पकाएं.
  • बीच-बीच में देखते रहें, कि लौकी कडाही से चिपक न जाये.
  • 15-20 मिनट बाद चेक करें. यदि चावल थोड़ा कच्चा है तो कडाही में थोड़ा पानी डालकर थोड़ा और पकाएं. यदि लौकी में पोहा भरा है, तो कोई आवश्यकता नहीं है. भरवां लौकी तैयार है.

अब भरवां लौकी को उतार कर छोटे-छोटे पीस में काट लें और गरम-गरम परोसें.

यह भी देखें :

दलिया दे स्वाद भी, स्वास्थ्य भी

One thought on “भरवां लौकी रेसिपी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Healthnia