इन चीज़ों के लड्डू हैं असली इम्युनिटी बूस्टर Immunity Booster Laddu

शेयर अवश्य करें

Immunity Booster Laddu आयुर्वेद में ऋतुओं के अनुसार खानपान अपनाने की बात की जाती है. आयुर्वेद बताता है कि सर्दियों में गर्म तासीर के खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए, जिससे सर्दी में इम्युनिटी कम होने पर शरीर विभिन्न प्रकार के संक्रमणों से बचा रहे. आज हम आपको बताएँगे 3 चीज़ों के बारे में, जिनसे बने लड्डू हैं असली इम्युनिटी बूस्टर (Immunity Booster)

अलसी के इम्मुनिस्टी बूस्टर (immunity booster) लड्डू

alsi laddoo

अलसी के सेवन से शरीर में अनेक रोगों को पैदा होने से रोका जा सकता है. सर्दियों में शहद के साथ अलसी का काढ़ा सदियों से प्रयोग होता आ रहा है. अलसी शरीर को आन्तरिक गर्माहट प्रदान करती है. साथ ही इससे मौसमी सर्दी, जुकाम और खांसी से राहत मिलती है. अलसी के लड्डू बनाने के लिए सबसे पहले अलसी को भूनकर बारीक़ पीस लें. फिर इसमें भुना आटा, सौंठ, अजवायन, मखाना, इलायची, जावित्री, गुड और घी मिलकर लड्डू बना लें. सर्दी, जुकाम, खांसी से बचाव के साथ साथ अलसी के लड्डू के सेवन से जोड़ों के दर्द, हड्डियों की कमजोरी, पेट की समस्याओं, सिरदर्द और कोलेस्ट्रोल आदि की समस्याओं को दूर करते हैं.

हरीरा के लड्डू

हरीरा एक अति प्राचीन एंटीबायोटिक औषधि है. इसे सौंठ, अजवायन, पीपरमूल, बादाम, मखाना, गारी, गोंद, सौंठ, हल्दी, देसी घी, गुड और कुछ मसालों को मिलाकर बनाया जाता है. प्रसव के बाद एंटीबायोटिक औषधि के रूप में इसको नव प्रसूताओं को दिया जाता है. सर्दियों में हरीरा के लड्डू खाने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता (Immunity Power) में वृद्धि होती है. यह पाचन क्रिया बढ़ाने में भी सहायक होता है. प्रसव के बाद स्त्री के गर्भाशय को साफ करने और पुराने स्वरुप में लाने के लिए इससे बेहतर कोई औषधि नहीं है.

तिल के इम्युनिटी बूस्टर (immunity booster) लड्डू

til laddoo

आयुर्वेद में इन्द्रय रसायन कहे जाने वाला तिल गुणों की खान है. इसके सेवन से भी सर्दियों में शरीर को गर्म रखने और शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाने में सहायता मिलती है. तिल इतना गुणकारी है कि सिर्फ गुड के आलावा कुछ भी मिलाने की आवश्यकता नहीं है. सिर्फ गुड और तिल के लड्डू से सर्दियों में शरीर को हानिकारक रोगाणुओं से लड़ने की शक्ति प्राप्त होती है.

हल्दी के लड्डू

हल्दी एक बेहतरीन एंटीबायोटिक है. सदियों से माएं चोट पर हल्दी लगाती आई हैं. साथ ही बीमारी या थकान होने पर हल्दी का दूध भी शरीर को राहत प्रदान करता है. लेकिन हल्दी के लड्डू सर्दियों में शरीर के लिए बेहतरीन उपाय सिद्ध होते हैं. इसे बनाने के लिए भुने हुए आटे में इसका 10 वां भाग हल्दी मिलाएं. साथ ही इसमें गुड, घी, सौंठ, अजवायन आदि मिला लें.

इन लड्डुओं को रात में सोते समय गरम दूध के साथ करने पर पूरी सर्दियों में शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बनी रहती है.

 

 

Healthnia